Chirawa Online – Complete portal of the people of Chirawa

Top ↑

October 26, 2013

राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा में दिखा उत्साह

10 केंद्रो पर शांतिपूर्वक परीक्षा सम्पन्न
चिड़ावा। उपखंड मुख्यालय पर शनिवार को राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा शांतिपूर्वक सम्पन्न हुई। परीक्षा के लिए 10 केंद्र बनाए गए थे। राजकला राजकीय बालिका उमावि, सेखसरिया उमावि, चिडावा विद्या निकेतन विद्यालय, चिडावा कॉलेज चिडावा, गिन्नी देवी सत्यनाराण सेखसरिया पीजी गल्र्स कॉलेज, राजकीय अडूकिया मावि, लोहिया उमावि, रविंद्रा एकेडमी, नेहरू बाल मंदिर, राजस्थान पब्लिक स्कूल आदि केंद्रो पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम थे। परीक्षा को लेकर परिक्षार्थियों में उत्साह देखा गया।
पेपर सरल था, अच्छी रैंक आने की उम्मीद है: ज्योति, प्रतिज्ञा
झुंझुनूं की प्रतिज्ञा ने बताया कि पेपर सरल था तथा अच्छी रैंक आने की उम्मीदे है। इन्होंने कहा कि पिछली बार के पेपर से इस बार का पेपर काफी अलग था। ज्योति ने बताया कि पिछली बार जो सलेब्स था वो काफी कठिन था लेकिन इस बार सलेब्स में परिवर्तन किया गया है वो परीक्षार्थियों के हित में है।
जज्बे की मिसाल पेश की नेत्रहीन युवक ने
बीएड के एग्जाम देने के बाद अचानक आंखो की रोशनी खोने वाले वार्ड न. 12 के युवक मूरारीलाल ने राज्य प्रशासनिक सेवा परीक्षा देकर एक अनूठी मिसाल कायम कर दी। राजकला राजकीय उमावि केंद्र पर इस युवक ने जज्बे से दूनिया जीतने का हौसाल दिखाते हुए कहा कि आंखों की रोशनी खोने के बाद भी उनके जीवन में कभी निराशा के भाव मन में नही आए। बल्कि इसे एक चुनौती की तरह मानकर इसे मैने अपना एक जज्बा बना लिया। अतिरिक्त मिले एक घंटे समय के बाद परीक्षा देकर बाहर निकले मूरारीलाल ने बताया कि पेपर थोडा कठिन था लेकिन फिर भी अच्छे रैंक आने की उम्मीद है। पेपर को लेकर मिलीजुली प्रतिक्रिया देखने को मिली।


Top ↑

राज्य स्तरीय पुरस्कार का ऐलान

पिपलान्त्री राजसमंद के श्याम सुंदर पालीवाल होंगे सम्मानित
चिड़ावा। श्री रामकृष्ण जयदयाल डालमिया सेवा संस्थान के द्वारा डालमिया स्पोट्र्स कॉम्पलेक्स में शनिवार को प्रेस कान्फ्रेस का आयोजन हुआ। संस्थान के निदेशक सत्यवीर चौधरी एवं सलाहकार निरंजन सिंह ने बताया कि 19 नवम्बर 2013 को डालमिया स्पोट्र्स कॉम्पलेक्स में होने वाले सम्मान समारोह के दौरान राज्य स्तरीय पुरस्कार के लिए चुने गए पिपलान्त्री राजसमंद के श्यामसुंदर पालीवाल को एक लाख रूपए नकद देकर सम्मानित किया जाएगा। संभाग स्तर पर शेखावाटी संभाग का पुरस्कार झुंझुनूं जिले के केसरीपुरा के किसान मोहरसिंह को, मेवाड़ सभाग का पुरस्कार राजसमंद जिले में भीम तहसील के प्रगतिशील किसान मोती सिंह तथा हाड़ौती ढुंढाड संभाग का पुरस्कार कृपाविस संस्थान को चुना गया है। संस्थान के निदेशक सत्यवीर चौधरी ने बताया कि 19 नवम्बर को 11 बजे डालमिया स्पोट्र्स कॉम्पलेक्स में सम्मान समारोह आयोजित होगा। सप्तम डालमिया पानी पर्यावरण पुरस्कार 2013 के पुरस्कार वितरण समारोह के मुख्य अतिथि समाजसेवी भगवानसिंह होंगे। मुख्य वक्ता वाटरमैन राजेंद्र सिंह होंगे।
बारिश के जल के सद्उपयोग की योजना पर होगा जोर
संस्थान ने आगामी योजना पर भी प्रकाश डालते हुए डा हनुमान प्रसाद ने बताया कि गांवों एवं शहरो में बारिश का पानी तो जमा किया जा रहा है लेकिन उनका सदउपयोग नही हो पा रहा है। इसके लिए संस्थान जल्द ही नई योजना चलाकर लोगों को बारिश के पानी तथा पर्यावरण सरंक्षण के लिए लोगों को जागरूक करने के प्रयास किए जाएंगे। डा. हनुमान ने फसलो के उत्पादन में हो रहे रासायनिक प्रयोग को स्वास्थ्य के लिए हनिकारण बताते हुए कहा कि रासायनिक पदार्थो के अधिक प्रयोग के चलते उनके दुष्प्रभाव भी दिखने लगे है। रायायनिक के प्रभाव से कैंसर जैसी महामारी पैदा हो रही है। इसका प्रभाव पंजाब, हरियाण व राजस्थान में देखा जा रहा है। सबसे अधिक प्रभाव पंजाब में पड़ा है। उत्पादन की क्षमता दिनोदिन कम हो रही है। डा हनुमान प्रसाद ने रासायनिक दुष्प्रभाव से बचने के लिए पशुधन एवं समन्वित कृषि अपनाने पर जोर दिया।


Top ↑

प्रदुषण रहित दीपावली मनाने का आह्वान

नि:शक्त बच्चों को बांटी मिठाई
26crw1चिड़ावा। नए बस स्टेण्ड स्थित पुर्नवास केंद्र अक्षय प्रतिष्ठान में नि:शक्त बच्चों को मिठाई एवं मोमबत्ती बांटी तथा प्रदुषण रहित दीपावली मनाने का संकल्प दिलवाया। इस दौरान युसीमाश की संस्थापक आंचल भगेरिया, प्रतिष्ठान के व्यवस्थापक लीलाधर भगेरिया, मोहम्मद वकील, सुमन शर्मा, कैलाश शर्मा, धर्मवीर, रामा देवी आशीष त्रिपाठी, राकेश सैनी, अन्जू सहित अन्य जन मौजूद थे।


Top ↑

चिकित्सा शिविर 10 को

चिड़ावा। सेखसरिया हॉस्पीटल में 10 नवम्बर को बसंतलाल-बनारसीलाल सेखसरिया चेरिट्रेबल ट्रस्ट की ओर से बहुउद्देशीय चिकित्सा शिविर आयोजित होगा। शिविर संयोजक सतीश शर्मा ओजटूवाला ने बताया कि शिविर में शुगर, ईएनटी, शिशु रोग के रोगियों की जांच कर उन्हें चिकित्सीय परामर्श दिया जाएगा।


Top ↑

समाज को जागरूक करने का प्रयास

चिड़ावा। रेलवे स्टेशन स्थित जिला सेन समाज कार्यालय में शनिवार को जिलाध्यक्ष राजकुमार हर्षवाल की अध्यक्षता में बैठक हुई। जिसमें समाज को जागरूक होकर मताधिकारी का प्रयोग करने की अपील की। इस मौके पर सरक्षंक डा बीएल वर्मा , ताराचंद, रघुवीर सिंह, नौरंगलाल, श्रीचंद खासीका बास, उम्मेद, महेश कालीपहाड़ी, बनवारीलाल कालोया, एडवोकेट नयन कमल भारतीय, उमराव सिंह, रामचंद्र आदि मौजूद थे।


Chirawa Live

समाचार पत्रों से


आईबीएन-7

कुंबकोनम अग्निकांड में प्रिंसिपल संग 10 दोषी
आईबीएन-7
नई दिल्ली। 10 साल पुराने कुंबकोनम अग्निकांड में फैसला आ गया है। तंजावुर की सेशंस कोर्ट ने इस मामले में 10 लोगों को दोषी करार दिया है। दोषी ठहराए गए लोगों में स्कूल का मालिक और प्रिंसिपल भी शामिल हैं। हालांकि कोर्ट ने 11 आरोपियों को बरी कर दिया। दोषियों की सजा का ऐलान बाद में किया जाएगा। 16 जुलाई 2004 को कुंबकोनम के स्कूल में लगी आग में 94 बच्चों की झुलसकर मौत हो गई थी, जबकि 18 बच्चे जख्मी हुए थे। क्या था मामला. तमिलनाडु के कुंबकोनम अग्निकांड के देश के सबसे खौफनाक अग्निकांडों में गिना जाता है। ठीक 10 साल पहले 16 जुलाई 2004 को ये अग्निकांड हुआ था। ये हादसा ...
कुंभकोणम अग्निकांडः प्रिंसिपल समेत 10 दोषी, 11 बरीआज तक
कुंभकोणम: स्कूल अग्न‍िकांड में प्र‍िंसिपल समेत 10 दोषी करारOneindia Hindi
कुंभकोणम स्कूल आग हादसे में 10 दोषी करारLive हिन्दुस्तान
बीबीसी हिन्दी -Bhasha-PTI
सभी 18 समाचार लेख »

नवभारत टाइम्स

पुणे में जमीन धंसने से दबा पूरा गांव, सैंकड़ों फंसे
नवभारत टाइम्स
पुणे में भीमाशंकर के पास जमीन धंसने से एक पूरा गांव उसकी चपेट में आ गया है। शुरुआती रिपोर्ट्स में बताया जा रहा है कि मालिन गांव के करीब 44 घर जमीन धंसने से दब गए हैं। ये गांव अंबे वैली के करीब है। मलबे में करीब 160 लोगों के फंसे होने की खबर है। अभी तक 8 शव मलबे से निकाल लिए गए हैं। गांव की आबादी 715 के करीब है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण इस हादसे पर नजर बनाए हुए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सभी वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और राहत-बचाव कार्य के लिए सभी जरूरी चीजें मुहैया कराई जा रही हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भूस्खलन बुधवार सुबह करीब 6 बजे हुआ ...
पूणे में भूस्खलन, कई लोगों के फंसे होने की आशंकाLive हिन्दुस्तान
पुणे के पास एक गांव में भूस्खलन, पांच की मौत, करीब 150 लोगों के फंसे होने की आशंकाएनडीटीवी खबर
पुणे में बारिश से धंसी जमीन, मिट्टी में दबा पूरा गांव!आईबीएन-7
प्रभात खबर -दैनिक भास्कर -आज तक
सभी 30 समाचार लेख »

ABP News

पुणें में कई गांवों को निगल रहा भूस्खलन का कहर
Oneindia Hindi
मुंबई। महाराष्ट्र राज्य में पचास गांवों को भूस्खलन नाम का कहर निगलने को तैयार है। खबर है कि पुणे में इतनी भयंकर तरीके से भूस्खलन हुआ है कि पहाड़ का एक हिस्सा टूट कर गिर गया है। जिससे काफी नुकसान हुआ है। इतनी ज्यादा भारी बारिश है कि पचास गांवों पर कहर बरपा रहा है। महाराष्ट्र के गांव में रह रहे लोग इस समय कुदरत के कहर से थर्रा उठे हैं। इतने की लोगों को बाहर निकलते वक्त भी डर लग रहा है। कई लोगों के मारे जाने की खबर है। भूस्खलन से लगातार प्रभावित हो रहे गांवों को बचाने का अभियान शुरू किया जा चुका है। डेढ़ सौ से ज्यादा लोगों के फंसे होने के खबर है। इलाकों में कहर. भारी बारिश के ...
भारी बारिश के बाद ठाणे में डूबे 50 गांवABP News
ठाणे में भारी बारिश, 50 गांवों का संपर्क देश से कटादैनिक जागरण
भारी बारिश के कारण ठाणे में 50 गांव जलमग्नप्रभात खबर

सभी 7 समाचार लेख »

राहा ने चीफ्स ऑफ स्टाफ्स कमेटी के चेयरमैन का पदभार संभाला
Live हिन्दुस्तान
भारतीय वायु सेना के प्रमुख अरूप राहा ने आज चीफ्स आफ स्टाफ्स कमेटी (सीओएससी) के चेयरमैन का पद ग्रहण किया। यह पद जनरल बिक्रम सिंह से के पास था जो कल सेवानिवृत्त हो रहे हैं। भारत में इस कमेटी का अध्यक्ष देश का सबसे वरिष्ठ सैन्य अधिकारी होता है। रक्षा सूत्रों ने बताया कि यहां साउथ ब्लॉक में एक कार्यक्रम में जनरल सिंह ने राहा को सीओएससी की कमान सौंपी। राहा (59) इस पद पर लगभग 29 महीनों तक रहेंगे और संभवत: इस पद पर सबसे लंबे समय तक कार्य करने वाले अधिकारी होंगे। उन्हें इतना लंबा कार्यकाल पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल डीके जोशी के फरवरी में इस्तीफा दिए जाने के कारण मिला है।

और अधिक »

Zee News हिन्दी

नेता प्रतिपक्ष को लेकर फैसला चार दिन के भीतर: लोकसभा स्‍पीकर
Zee News हिन्दी
नई दिल्ली : लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा है कि वह नेता प्रतिपक्ष (एलओपी) के मुद्दे पर नियमों का अध्ययन करने और अटार्नी जनरल के पत्र पर विचार करने के बाद अगले चार दिन के भीतर फैसला ले सकती हैं। उन्होंने कहा कि लोकसभा अध्यक्ष को किसी सदस्य को नेता प्रतिपक्ष चुनने के लिए कोई निजी विवेकाधिकार प्राप्त नहीं है और उन्हें केवल नियमों और पूर्व उदाहरणों का पालन करते हुए फैसला लेना है। उन्होंने कहा कि मैं सभी नियमों और अटार्नी जनरल के पत्र का भी अध्ययन करंगी। मुझे देखना होगा कि उनमें क्या है और क्या नहीं। लोकसभा अध्यक्ष कुछ नहीं कर सकता। मुझे नियमों के अनुसार ...
नेता विपक्ष पर अगले चार दिनों में फैसला लेंगी लोकसभा स्पीकरदैनिक जागरण

सभी 2 समाचार लेख »

Advertisements


Contact Mr. Subhash Khandelia @ +91-9829265727


Designed by Netvision

Powered By Indic IME